शीघ्र विवाह में बाधा को दूर करने के लिए उपाय मंत्र

शीघ्र विवाह में बाधा को दूर करने के लिए उपाय मंत्र , ” जीवन को सुचारु रूप से चलाने के लिए यह जरूरी है कि शिक्षा-दीक्षा नौकरी व्यवसाय के साथ-साथ विवाह भी समय पर हो| विवाह हेतु सही उम्र की विवेचना समय-समय पर बदलती रहती हैं| पुराने जमाने में कन्याएँ अत्यंत छोटी उम्र में ब्याह दी जातीं थीं| परंतु वर्तमान में ऐसा नहीं है| वैसे भी शादी-ब्याह वयस्क होने पर ही होना चाहिए ताकि वर-वधू दोनों भावी जीवन का दायित्व भली भांति समझ सकें| कई बार कुंडली दोष अथवा ग्रह-नक्षत्रों के संयोग से अनेक युवक-युवतियों विवाह में अतिशय विलंब होने लगता है|

उम्र पार कर लेने के बाद विवाह हो भी तो उसके प्रति वैसा उत्साह समाप्त हो जाता है| संगी-साथी भी उस विवाह को उपहास की दृष्टि से देखने लगते हैं| यदि बार-बार रुकावट आ रही हो तो देर करें की बजाय कुंडली की जांच करवाकर ग्रह शांति प्राथमिक स्तर पर ही कर लेना चाहिए| उसके बाद ज्योतिष शास्त्र में वर्णित शीघ्र विवाह उपायों को अपनाकर इस समस्या का निदान किया जा सकता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *